8/10/2008

तू रहती है




"तू रहती है"


मेरे एहसास में तू रहती है,
मेरे जज्बात में तू रहती है
आँखों मे सपना की जगह
मेरे ख़यालात में तू रहती है
लोग समझते हैं के वीराना है
पर मेरे साथ में तू रहती है
दम घुटता है जब रुसवाई मे ,
मेरी हर साँस मे तू रहती है
दुख का दर्पण , विरहन सा मन
मेरे हर हालात मे तू रहती है

13 comments:

सौरभ said...

i like this

Anil Pusadkar said...

kamaaaal hai,roz likhna,wo bhi achha,hairan kar deta hai mujhe.badhai aapko ek bar fir,

'sakhi' 'faiyaz'allahabadi said...

Dear Seema Ji,
Kuch sabse alag hut kar hai aap ka style. Aur phir variety ka to kya kahna. Kitne jazbaat aur kitne ehsasaat ko aap ne shabdon ka vastra de kar saamne aane ka avsar pradan kar diya. Phir bhi:............

dil ye kahta hai.....
"apne izhaar ke andaaz mein too rahti hai
apne khayalaat ke alphaaz mein tu rahti hai
dil ke jab saaz ne chera hai muhabbat ka geet
uske har taar ki awaaaz mein tu rhati hai"

aur aap ko padhne wala aap ka fan hamesha aap ko pahchan jaata hai.
Hats off to you............'shubhchintak'

G M Rajesh said...

ssason men base pranon ko bhool gai likhna ............

mahendra mishra said...

bahut hi khoobasoorat rachana . badhai ji.

नीरज गोस्वामी said...

बहुत खूब...
नीरज

बालकिशन said...

चमत्कृत!
अद्भुत!
एक बात कहूँ बुरा मत मानियेगा
आपका नाम "सीमा" नहीं "असीमा" होना चाहिए.
कोई सीमा नहीं आपके लेखन की.
मेरे पास प्रशंसा के लिए शब्द नहीं है. इसलिए शायद ये लिख गया हूँ.

विनय प्रजापति 'नज़र' said...

मन का सारा राज़ शब्दों की स्याही बन गया है!

Udan Tashtari said...

बहुत उम्दा.

"Archeav" said...

Mere eh-saas me tu rehti he..
tu hi tu, tu hi tu...
You've achieved the level of perfection in writing what's there right deep inside your heart..
Great going seema, Keep going forever.....

Advocate Rashmi saurana said...

सीमा जी, बालकिशन जी ठीक कह रहे है. वाकई केवल शब्दों से आपकी रचना की तारीफ पूरी नहीं की जा सकती.

"SURE" said...

तेरे जिक्र से कब हूँ मै जुदा
मेरी हर बात में तू रहती है
तुझसे ही है हस्ती मेरी
मेरी औकात में तू रहती है

mukesh said...

seema ji bahut hi sunder rachna likhi hai ,

waqii me aapki har rachna me kuch naya or dil ko chuu lene wala andaz hota hai.


i like this